Google News - एंटीलिया केस में जैश-उल-हिंद की सफाई:आतंकी संगठन ने विस्फोटक रखने की बात से इनकार किया, पोस्टर जारी कर कहा- हमारी लड़ाई मोदी से, अंबानी से नहीं - Textnews1-Breaking News, Latest News In Hindi

Textnews1-Breaking News, Latest News In Hindi

Breaking News, Latest News From India And World Including Live News Updates, Current News Headlines On Politics, Cricket, Business, Entertainment And More Only On Textnews1.online.

Breaking

Home Top Ad

Post Top Ad

2021-03-01

Google News - एंटीलिया केस में जैश-उल-हिंद की सफाई:आतंकी संगठन ने विस्फोटक रखने की बात से इनकार किया, पोस्टर जारी कर कहा- हमारी लड़ाई मोदी से, अंबानी से नहीं

 एंटीलिया केस में जैश-उल-हिंद की सफाई:आतंकी संगठन ने विस्फोटक रखने की बात से इनकार किया, पोस्टर जारी कर कहा- हमारी लड़ाई मोदी से, अंबानी से नहीं

उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया के बाहर विस्फोटक रखने की बात से आतंकी संगठन जैश-उल-हिंद ने इनकार कर दिया है। सोशल मीडिया में जैश उल हिंद ने एक पोस्टर शेयर किया है। इसमें कहा गया है कि उन्होंने अंबानी को कभी कोई धमकी नहीं दी। वायरल हो रहा पत्र फर्जी है। आतंकवादी संगठन ने कहा कि वो नरेंद्र मोदी से लड़ रहे हैं। उनकी अंबानी से कोई लड़ाई नहीं है।


28 फरवरी को बने एक टेलीग्राम अकाउंट से एक चिट्ठी डाली गई थी, जिसमें दावा किया गया था कि इसमें जैश-उल-हिंद ने मुकेश अंबानी को धमकी दी है।


पोस्टर की हैडिंग में लिखा- जैश-उल-हिंद से अंबानी को कोई खतरा नहीं, पढ़िए पूरा पोस्टर

आज सुबह हमने देखा कि भारतीय मीडिया में खबर चल रही है कि जैश-उल-हिंद ने भारतीय व्यवसायी मुकेश अंबानी के घर के बाहर हुई घटना की जिम्मेदारी ली है। हमें जैश-उल-हिंद नाम से एक टेलीग्राम अकाउंट के बारे में भी पता चला है, जिसमें उसी घटना का हवाला देते हुए एक पोस्टर जारी किया गया है।

पोस्टर से हम साफ करना चाहते हैं कि जैश-उल-हिंद का घटना से कोई संबंध नहीं है। मुकेश अंबानी के बंगले के बाहर हुई घटना, कथित टेलीग्राम अकाउंट और चिट्ठी का हमसे कोई संबंध नहीं है। हम फर्जी पोस्टर बनाने के लिए भारतीय खुफिया एजेंसियों की निंदा करते हैं।

हम कभी भी कुफ्रों (ईश्वर को न मानने वालों) से फिरौती नहीं लेते हैं और भारतीय व्यापार जगत के टाइकूनों के साथ हमारी कोई लड़ाई नहीं है। हमारी लड़ाई भाजपा और संघ के खिलाफ है।

इस पत्र के जरिए मुसलमानों को बरगलाने की कोशिश की गई।

नरेंद्र मोदी हिंदुस्तान के बेगुनाह मुसलमानों के खिलाफ जो बुरे काम कर रहे हैं, हम उनके खिलाफ लड़ रहे हैं। हम शरीयत के लिए लड़ रहे हैं न कि पैसे के लिए, हम सेकुलर डेमोक्रेसी के खिलाफ लड़ रहे हैं, अंबानी से नहीं।

google news india,google news hindi,india news,google news usa,latest news,news today,ndtv news, google news tamil,india news hindi,india news online


2000 CCTV फुटेज के सहारे जांच कर रही पुलिस

एंटीलिया के बाहर 26 फरवरी की शाम संदिग्ध स्कार्पियो मिली थी। इसमें 20 जिलेटिन छड़ें रखी गई थीं। कार एंटीलिया से सिर्फ 600 मीटर के फासले पर खड़ी थी। इस मामले की जांच मुंबई पुलिस और NIA कर रही हैं। पुलिस ने अब तक 2000 से ज्यादा CCTV कैमरों की वीडियो फुटेज को अपने कब्जे में लिया है और जांच जारी है। कई वीडियो फुटेज में यह सुराग मिले हैं कि विस्फोटक रखने के बाद आरोपी एक इनोवा में बैठकर शहर से बाहर भाग गए हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Bottom Ad

पेज