ट्रैक्टर रैली हादसे में मारे गए किसान के परिवार से मिलने के लिए प्रियंका का काफिला निकला - Textnews1-Breaking News, Latest News In Hindi

Textnews1-Breaking News, Latest News In Hindi

Breaking News, Latest News From India And World Including Live News Updates, Current News Headlines On Politics, Cricket, Business, Entertainment And More Only On Textnews1.online.

Breaking

Home Top Ad

Post Top Ad

2021-02-04

ट्रैक्टर रैली हादसे में मारे गए किसान के परिवार से मिलने के लिए प्रियंका का काफिला निकला

ट्रैक्टर रैली हादसे में मारे गए किसान के परिवार से मिलने के लिए प्रियंका का काफिला निकला


कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी दिल्ली में गणतंत्र दिवस के मौके पर ट्रैक्टर रैली के दौरान हुई हिंसा में मारे गए किसान नवरीत सिंह के परिजनों से मिलने शोक संवेदना व्यक्त करने के लिए गुरुवार को उत्तर प्रदेश के रामपुर के दौरे के लिए निकल चुकी हैं. इस काफिले में प्रियंका गांधी के साथ उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय लल्लू, पूर्व सांसद पी एल पूनिया,जितिन प्रसाद, यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास, अल्पसंख्यक कमिटी के अध्यक्ष नदीम जावेद भी साथ हैं.

kisan andolan rajasthan,delhi kisan andolan,kisan andolan reason in hindi,kisan andolan date,kisan andolan pdf,


आपको बता दें कि पिछले महीने 26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली के दौरान नवरीत का ट्रैक्टर एक पुलिस बैरिकेड से टकरा गया था उस हादसे में उसकी जान चली गई थी. इस हादसे के बाद दिल्ली पुलिस ने एक वीडियो फुटेज भी जारी किया था जिसमें यह देखा गया था कि आईटीओ के पास पुलिस बैरिकेड को तोड़ने की कोशिश में तेज रफ्तार से आ रहा एक ट्रैक्टर पलट जाता है कुछ लोगों के ऊपर गिर जाता है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चला है कि इस दुर्घटना के कारण ही उसकी मौत हुई थी.


यह घटना 26 जनवरी को उस समय घटित हुई, जब ट्रैक्टरों पर सवार सैकड़ों किसानों ने पुलिस बैरिकेड्स को तोड़ने के बाद नई दिल्ली के आईटीओ क्षेत्र में खूब उत्पात मचाया था. उग्र हो चुके किसानों को काबू में करने के लिए पुलिस ने आंसू-गैस के गोले भी दागे. पुलिस उन्हें मध्य दिल्ली में इंडिया गेट राजपथ की ओर बढ़ने से रोकने की कोशिश कर रही थी.

इस दौरान पुलिस प्रदर्शनकारी किसानों के बीच झड़पें भी देखी गईं, क्योंकि किसानों के एक समूह ने दिल्ली पुलिस द्वारा की गई सुरक्षा व्यवस्था को तोड़ने की कोशिश की.


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Bottom Ad

पेज