किसान नेता बोले- लगता है आपका बात निपटाने का मन नहीं; बता दीजिए, चले जाएंगे - Textnews1-Breaking News, Latest News In Hindi

Textnews1-Breaking News, Latest News In Hindi

Breaking News, Latest News From India And World Including Live News Updates, Current News Headlines On Politics, Cricket, Business, Entertainment And More Only On Textnews1.online.

Breaking

Home Top Ad

Post Top Ad

2021-01-08

किसान नेता बोले- लगता है आपका बात निपटाने का मन नहीं; बता दीजिए, चले जाएंगे

 किसान नेता बोले- लगता है आपका बात निपटाने का मन नहीं; बता दीजिए, चले जाएंगे

किसान आंदोलन को 44 दिन हो गए हैं। किसानों की सरकार के साथ 9वें दौर की मीटिंग विज्ञान भवन में चल रही है। सरकार की तरफ से बातचीत में कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, रेल मंत्री पीयूष गोयल और वाणिज्य राज्य मंत्री सोम प्रकाश मौजूद हैं। किसानों ने कृषि कानून रद्द करने की मांग दोहराई, लेकिन कृषि मंत्री ने इनकार कर दिया।

news in hindi,india news,mumbai news,news live,news today,today breaking news,abp news,news ndtv

किसानों के तेवर भी तल्ख बने हुए हैं। किसान नेता बलबीर राजेवाल ने मंत्रियों से कहा, "आप जिद पर अड़े हैं। आप अपने-अपने सेक्रेटरी, जॉइंट सेक्रेटरी को लगा देंगे। नौकरशाह कोई न कोई लॉजिक देते रहेंगे। हमारे पास भी लिस्ट है। फिर भी आपका फैसला है। क्योंकि आप सरकार हैं। लोगों की बात शायद कम लगती है। जिसके पास ताकत है, उसकी बात ज्यादा होती है। इतने दिनों से बार-बार इतनी चर्चा हो रही है। ऐसा लगता है कि इस बात को निपटाने का आपका मन नहीं है। तो वक्त क्यों बर्बाद करना है। आप साफ-साफ जवाब लिखकर दे दीजिए, हम चले जाएंगे।"

राज्यों पर छोड़ा जा सकता है कानून लागू करने का फैसला

  • कृषि कानूनों को लागू करने का फैसला केंद्र अब राज्य सरकारों पर छोड़ सकता है। डेरा नानकसर के मुखी बाबा लक्खा सिंह ने कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से गुरुवार को एक मीडिएटर (मध्यस्थ) के तौर पर मुलाकात की।
  • सूत्रों के मुताबिक केंद्रीय मंत्री ने बाबा लक्खा सिंह को बताया कि सरकार अब एक प्रस्ताव तैयार कर रही है, जिसमें राज्य सरकारों को कृषि कानून लागू करने या न करने की छूट दी जाएगी।
  • चर्चा है कि आज की बैठक में केंद्र सरकार किसानों के सामने इस प्रस्ताव का खुलासा कर सकती है। अगर किसान इस पर सहमति जताते हैं तो आंदोलन खत्म होने की संभावना बन जाएगी।

अपडेट्स

  • किसान नेताओं से मिलने से पहले तोमर और गोयल ने गृह मंत्री अमित शाह के घर जाकर मुलाकात की थी।
  • कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि जब कानूनों के हर क्लॉज पर बात होगी तो समाधान निकलेगा। सरकार कानूनों में बदलाव के लिए तैयार है। हमें नतीजा निकलने की उम्मीद है।
  • किसानों ने कहा कि क्लॉज वाइज बात करने की कोई गुंजाइश नहीं है। सरकार को कानून वापस लेने की बात करनी चाहिए।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Bottom Ad

पेज